Kutchi Maadu Rotating Header Image

Posts under ‘Kutchi Lokgeet’

बोलेंता मोर मेठा ! બોલેંતા મોર મેઠા !

कच्छी धुन Kutchi Dhun : कच्छी रेडियो चोवी कलाक !

पांजे कच्छी रेडियो “कच्छी धुन” ते छॅल्ले हकडे वरेथी पां कच्छी गीत, कच्छी लोक गीत , भजन ने बाल गीत जो आनंद मांणे र्या अयूं . आंके नवा ने जोना कच्छी गीत सॉणेला मलें एनलाकरे असांजा प्रयत्न रेंता. आंजो सिलॅकशन सोंणेला कॉमेंट ने फीडबॅक हन पोस्टमे लखजा.

कच्छ जा माडु

भजन : माडुडा लगेंता मिठा

भजन : माडुडा लगेंता मिठा
*****************
माडुडा लगेंता मिठा, कच्छडे जां मुंके
माडुडा लगेंता मिठा……टेक
रात ने डीं जित , रेयाणु अंतरज्युं , अधा
छेडला नेहजा छुटा…… कच्छडे…..
अखियें में जें जे अमरत वरसे , अधा
दरशन सुखणां डिठा… कच्छडे…..
हरपल जेंजा हेतज संभरें , अधा
सोणला सुते अैं सुठा ….. कच्छडे…..
‘मावो‘ चेय मुंके मारे विछोडो , अधा
वलप जे हंध विठा….. कच्छडे…..
: मावजी जेराम भानुसाली (मास्तरजी)

Kutch ja Madu

Kachchh ja madu Lokgeet performed by patidar samaj kampala(uganda)on diwali samelan

Hal Re vanjara Kachado Vataiya!

Beautifully choreographed Kutchi Lokgeet

Ba Paise Ja Ringra

Matho Kutchi Geet

नाखुवा : कच्छी कविता

नाखुवा , होडी़ हाकार ! नाखुवा ,
नाखुवा , होडी़ हाकार !
विञणुं सामे पार ! नाखुवा,
नाखुवा , होडी़ हाकार ! …
वा तूफानी वंइये ता सामे , लह्ररयुं डुंगर धार !
विज वराका, वडर गज्जें, मिंय प मुसलधार
कंधी का आर न पार ! नाखुवा ,
नाखुवा , होडी़ हाकार ! …
नॉलो मुसाफिर अइयें तुं भी, नॉली धरियावाट !
आय पुराणी तोजी होडी़ , पूरी नांय आलाघ !
हथ तॉजा पतवार ! नाखुवा ,
नाखुवा , होडी़ हाकार !
सिक ज सच्ची आय मन में , महभूभ मिलण मनठार !
हेंमथ हिंयें में रक्खी ने तुं , होडी़ तुंहीं जी हाकार !
मौला थींधो मधधगार ! नाखुवा,
नाखुवा , होडी़ हाकार !
: माधव जोशी “अश्क”

माडी तोझी मानी : कच्छी गीत

मिणियां मूंके मिठी लगेती माडी तोझी मानी
माडी तोझी मानी में तां जोबन जोम जुवानी ….. मिणियां
धींगी कच्छडेजी धरती, धींगी बाजरजी मानी
धींगा तोजा हथडा माडी , धींगो कच्छी पाणी …… मिणियां
मेमाणें के मेमानीमें मान ज डींधल मानी
देवेंके पण दुरलभ एडो दान ज तोजो दानी …… मिणियां
माडी तोजे हथजी मानी , मुंजी इज कमाणी,
‘काराणी’ चे अमरत जेडी, मिठडी माजी मानी …… मिणियां
: कवी दुलेराय काराणी

Kachchhi Lokgeet !

Matho Panje Kachchh Jho Paani !

Kachchh jho Golado Matho!
(more…)