Kutchi Maadu Rotating Header Image

पत्रकार

पत्रकार
*****
        
लिख, हाणें लिखवार, पण तूं भंध न कर !
खम कलम कर वार, तूं भंध न कर !
भंध न कर भेईमान थींनें, चुकनें धरम तूं तॉजो,
माडू नईयें गईयार , तूं भंध न कर !
भोरींग भष्टाचारजो डिस तूं , डेसके डंखे ,
कर कलम तईयार , तूं भंध न कर !
तॉजो कर्म आय ई ज, सच्चो लिखी सग़ेजो,
कर सचजो हूंकार , तूं भंध न कर !
 ‘नूर’  फेंसलो करी गिन, अणनम अुभठो  अईयां !
खोटा न कर वीचार, तूं भंध न कर !
: नूरमामद ‘नूर ‘
facebook share

Leave a Reply