Kutchi Maadu Rotating Header Image

जाॅक्स : मंधी

कच्छी जोक्स : मंधी,😂😂

छगन (पंढजे बोस के ) – सर, काल थी आउ वेलो 7 वगे घरे हल्यो वेधो…..

बोस :- को..?

छगन :- आजी नोकरी थी मुजो घर नतो हले ,
रात जो नाईट में मूके रिकसा हलाईणी खपेती एटले…

बोस (भावुक थई ने ) – रीक्षा हलाई धे हलाई धे थकी रे ने भोख लगे त मु वटे अची ज भला , आउ पण रात जो पाव-भाजी जी लारी हलाईया तो …

Kachchhi Rap Song

Kachchhi Rap

कच्छजी करीयां गाल !!!

!! कच्छजी करीयां गाल !!

कच्छजी करीयां गाल यार (२)
कच्छडो आय कमाल मुंजे
कच्छजी करीयां गाल…..(२)

आइ आशापुरा जो आय मीठडो रे मढ गाम.
कोटेश्वर जी छांइ में आय नारायण जो धाम…..कच्छजी करीयां गाल

वसे रावर पीर जत्ते वजे मठा वाज..
जीगरी हाजीपीर जुको रणमें करे राज…..कच्छजी करीयां गाल

वागड देश वल्लो माता रवेचीजो ठाम.
सुरें जो सरताज उभो आय अभडो जाम…..कच्छजी करीयां गाल

धीणोधर तां डुंगर एडो कच्छडे जो गीरनार….
भुजीयें डुंगर जेडो कत्ते झोटो नांय यार…..कच्छजी करीयां गाल

मेकणजी समाधी जत्ते मोंगा मले मान..
जाडेजा जेसल के गाराय तोरल रुडा गान…..कच्छजी करीयां गाल

कामणगारें कच्छडे जा तां सागर जेडा संत..
लोहाणे में थई व्या वलुभगत जेळा संत जे रोटलो ने ओटलो बोय दनो अन्नपूर्णा स्वरूप देवी रूक्षमणि संग….
देव ता बरें डसी एडा पांजां संप…..
कच्छजी करीयां गाल

केडी करीयां गाल अंइ अच्चो हकडी वार…
लखे के लगेतो कच्छ अवध जो अवतार….कच्छजी करीयां गाल

!! जय कच्छ!!

कच्छी लोक गीत Kachchhi Lokgeet Special: Geeta Rabari 2018

मीं देसे कच्छडो

राजी थीए मनडो….
जॅर मीं देसे कच्छडो…..
ने एडा ज खुशी जा वावड साथे चोंधे पण नें लेखधें पण खुशी थीएती….,
के अज पांजे कच्छ में मेठडे मीं जी ,
पधरामणी थेई आय.
ने हाणे ही पांके ध्रोॅ कराईधो !

साल मुबारक ! शुभ असाढी बीज !

Kachchhi (Kutchi) New Year 2018

Kachchhi (Kutchi) New Year 2018

मेठडो मीं

मुंभई में मीं त लॅर कराय छडें , पेयो त गोंध पेयो ने हाणे मुंभई में पाणी पाणी करे छडे…., एडी ज रीते ,

हाणे कच्छडे वेनीं ने वस,
जेते खेडु रखी वेठा ऐं तो मथे आश ,
**********
मेठडे मीं जी झरमर वसेती धार….,

हैये खुशी जी हेली अचेती अपार….,

वसी पो वला मन खोले ने अनराधार…,

आय ही धोनीयां जो तो मथे मधार…,

बस हाणे असांजे कच्छडे कोरा नॅर…,

कच्छी टहुको

कच्छी टहुको
*********

छडी डे तुं भरम खोटो . . .
भेगो कोई न साथे अचींधो , , ,

हुंधो करम खासो त . . .
मथे ईज कम अचींधो , , ,

छडीज न पेंढजो ” सत ”. . .
वाट में त डो:ख पण अचींधो , , ,

हूंधा घणे सगा हेतें भलें . . .
मथे तां हेकडो पण कम न अचींधो , , ,

न रख खोटो भरोंसो कें तें . . .
कम तां पेंढजो आतमा अचींधो , , ,

ज हूंधा सच्चा भाव तो जा त , , ,
हली ने सामुं भगवान पण अचींधो . . . !!!

मींयडा वस तुं मोज सें

मींयडा वस तुं मोज सें
वतन असांजे कच्छ
न्याल करी डे कच्छ
अच
भांभरे त्युं गोयुं मैयुं
वछेरा ने वच्छ
मोरला प मलार करींता
मुंध ते वेला अच
वार न लगाइजा
वहेलो अची वस
वाला तोजी
वाट नेरे तो पाँजो कच्छ