Kutchi Maadu Rotating Header Image

कच्छी प्रवचन. Kachchhi Pravachan

facebook share

कच्छी कविता : मंध्धी में अंध्धी

facebook share

Kachchhi Drama By Kachchh Yuvak Sangh : Part 1

facebook share

Kachchhi Remix

facebook share

कच्छजो गोलाडो गाईंयां

facebook share

साल मुबारक ! Saal Mubarak

facebook share

कच्छी नवुं वरें असाढी बीज

कच्छी नवुं वरें असाढी बीज
*******************

अज आवई असाढी बीज,
हुभ छिलकाणी हींयेंं मिंजा, कर घर आयाते
अज आवई…

बख्खुं विजीनें हिकडें बेंके, गडेयो सेठ गरीब
नयें वरे जे’वा नरवा कें, मनजा घणा मरीज.
अज आवई…

ऊभ जामोटया वडरा कारा , चोमल चमकई वीज
गरजी हल्यो तें गगन सजोने, डुंगरा डोल्या रीज
अज आवई…

नीर छलकणा नदी नवाणें, मींयडा वठा अजीभ
मोर मलारें, कोयल टौकई, जन मन छलकाई प्रीत.
अज आवई…

खणी हणसारो खेडु हलेओ, अंघर रखी उमीध
कण मिंजानुं मण थै उपजॅ, डाता भरकत डीज
अज आवई…

नंईं साल मुभारक मिणी के, मालिक मेंर करीज
वॅर जॅर के छडीयुं विसारे. “प्यासी” रखज पतीज.
अज आवई…

: मावजी जेराम भानुसाली (मास्तरजी)
facebook share

देस ती वना परदेस ती वना

facebook share

बॅस्ट कच्छी जॉक्स

facebook share

तेज वाणी !

facebook share